August 2, 2021
presstv.in
Other महाराष्ट्र राज्य

महाराष्ट्र में फिर लॉकडाउन की तैयारी:CM उद्धव ठाकरे ने अफसरों से कहा- लॉकडाउन की स्ट्रैटजी बनाएं; एक ही दिन में 40 हजार से ज्यादा केस आने से चिंता बढ़ी

मुंबई

महाराष्ट्र में कोरोना की स्थिति बेकाबू होती जा रही है। राज्य में रविवार को कोरोना के रिकॉर्ड 40 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए। इससे सरकार की चिंता बढ़ गई है और एक बार फिर से टोटल लॉकडाउन की तैयारी की जा रही है। कोरोना पर बनी टास्क फोर्स ने लॉकडाउन की सिफारिश भी कर दी है। इसके बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुख्य सचिव सीताराम कुंटे से कहा कि तुरंत लॉकडाउन की स्ट्रैटजी बनाएं।

CM बोले- धारा 144 या कर्फ्यू से काम नहीं चलेगा
उद्धव ने रविवार को कहा कि महाराष्ट्र में धारा 144 से काम नहीं चलने वाला। कर्फ्यू से भी कुछ नहीं होने वाला। अब लॉकडाउन ही एकमात्र विकल्प है। उद्धव के इस बयान के बाद माना जा रहा है अगले एक से दो दिन में महाराष्ट्र में टोटल लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने अस्पतालों में बेड की संख्या, ऑक्सीजन और वेंटिलेटर्स की व्यवस्था के बारे में भी अधिकारियों से जानकारी ली है।

यह फोटो मुंबई के जूहू बीच की है। होली से पहले रविवार को यहां लोगों की काफी भीड़ देखी गई। इस दौरान पुलिस लोगों से मास्क लगाने और कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील करती रही।
यह फोटो मुंबई के जूहू बीच की है। होली से पहले रविवार को यहां लोगों की काफी भीड़ देखी गई। इस दौरान पुलिस लोगों से मास्क लगाने और कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील करती रही।

कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड
महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना ने सारे रिकॉर्ड्स तोड़ दिए हैं। रविवार को यहां 40,414 नए केस सामने आए। यह एक दिन में मिले संक्रमितों का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे पहले 26 मार्च को 36,902 मामले आए थे। बीते दिन राज्य में 108 लोगों की मौत भी हुई, इसमें से 58 मौतें नागपुर में हुई हैं।

मुंबई में मिले करीब 7 हजार मरीज
मुंबई में पिछले 24 घंटों में 6923 नए केस सामने आए। इसके अलावा 12 लोगों की मौत भी हुई। मुंबई में अब तक 3 लाख 98 हजार 674 कोरोना संक्रमित केस सामने आ चुके हैं। अब तक 11 हजार 649 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हुई है।

वहीं, हिंगोली जिले में एक हफ्ते का टोटल लॉकडाउन लगा दिया गया है। यह 29 मार्च सुबह 7 बजे से 4 अप्रैल दोपहर 12 बजे तक जारी रहेगा। हालांकि, इस दौरान जरूरी सेवाओं जैसे दूध, किराना, फल-सब्जी की दुकानें और मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे। इसके अलावा औरंगाबाद में भी 30 मार्च की आधी रात से 8 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया है।

कोरोना की भेंट चढ़ी परंपरा
उधर, बीड जिले के केज तालुका के विदा गांव में होली पर पिछले 80 सालों से चली आ रही गधा जुलूस की परंपरा को इस बार रद्द कर दिया गया। इस जुलूस में एक गधे को रंग लगाकर, उसके गले में सैंडल पहनाकर और उस पर एक शख्स को बिठाकर पूरे गांव में घुमाया जाता है। गधे पर बैठने वाले शख्स को सोने की अंगूठी और नई ड्रेस इनाम में दी जाती है।

Related posts

तलाकशुदा पत्नी को मेंटेनेंस का अधिकार नहीं:छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने दिया अहम फैसला कहा- तलाक हो जाने के बाद पत्नी को भरण-पोषण मांगने का हक नहीं

presstv

लालू कैद से रिहा, अभी AIIMS में ही:RJD चीफ की रिहाई की हार्ड कॉपी AIIMS को मिली, लेकिन मीसा के घर नहीं जाएंगे; अभी डॉक्टरों की देखभाल में रहना जरूरी

presstv

बिहार में कोरोना LIVE:NMCH में 16 मरीजों की जान गई, भोजपुर में तैनात सब इंस्पेक्टर और पटना के पत्रकार की भी मौत

presstv

कुंभ 2021: क्या नेताओं के लिए ग्रहों की चाल आम ज़िंदगियों से ज़्यादा महत्वपूर्ण है

presstv

“अभिव्यक्ति की आज़ादी” की आड़ में कुकुरमुत्ते की तरह उग रहे हैं तथाकथित पत्रकार व लेखक

presstv

जंगलों में आग के बाद अब दीमक भी बनी आफत:ईच्छापुर मर्दापोटी के जंगलों में दीमक का प्रकोप, सूखकर नष्ट हो रहे पेड़

presstv

Leave a Comment