January 27, 2022
presstv.in
sharab-1_1617041516
Covid-19 Other छत्तीसगढ़ जीवन शैली मनोरंजन राज्य रायपुर जिला

कोरोना जाए भाड़ में-क्योंकि होली है..!: 40 करोड़ की शराब पी गए रायपुर वाले, भीड़ में जूझकर ली बोतल; कोरोना के रिस्क पर बोले- क्या करें… चीज ही कुछ ऐसी है

साजिद अख्तर-एडीटर इन चीफ(द प्रेस टीवी)
रायपुर
तस्वीर रायपुर के कटोरा तालाब इलाके की शराब दुकान की है। ये हाल तब है जब कलेक्टर ने शहर में धारा 144 लगा रखी है।
  • रायपुर में 62 से अधिक शराबदुकानों में खूब बिकी शराब, नशे की वजह से सोमवार को शहर के कई हिस्सों में हुआ बवाल
  • सोमवार को शराब दुकानें बंद रहीं इसलिए दो दिन पहले से ही शुरू हो चुकी थी खरीदारी

सोमवार को शराब दुकानें बंद रहीं। लेकिन रविवार को दुकानें खुली थीं। आबकारी विभाग के अफसरों ने बताया कि दिनभर में पूरे जिले में करीब 40 करोड़ा की शराब बिकी है। खबर है कि होली की वजह से दुकानों में भीड़ और डिमांड को देखते हुए विभाग ने शनिवार से ही दुकानों में स्टॉक भरपूर रखने का इंतजाम कर लिया था। पूरे जिले की 62 से अधिक शराब दुकानों में करोड़ों की सेल की वजह से महज एक दिन में सरकार को अच्छा खासा राजस्व मिला। हालांकि दुकानों के बाहर कोविड प्रोटोकॉल का पालन होता नजर नहीं आया।

कुछ ऐसा था माहौल
कोई गालियां दे रहा था तो कोई किसी की कमर के पास से झुककर चलते हुए काउंटर तक पहुंचने की मशक्कत में था। रविवार की शाम रायपुर के कटोरा तालाब स्थित शराब दुकान के बाहर कुछ ऐसा ही माहौल देखने को मिला। चूंकि सोमवार को होली के दिन शराब दुकानें बंद रखने का आदेश जारी किया गया था इसलिए पीने वाले दो दिन पहले से ही अपने जुगाड़ में लग चुके थे। भीड पर लदकर पसंद की बोतल मांगने की मेहनत इसके बाद भी रविवार शाम तक जारी रही। शहर की बहुत सी दुकानों में भीड़ कम भी नजर आई। शराब दुकानों में शासन के निर्देश के बाद भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन नहीं हो सका। इन दुकानों पर नगर निगम या जिला प्रशासन की कोई टीम भी कार्रवाई करते नहीं दिखी, मानों पीने वालों को अघोषित छूट दी गई हो।

काटोरा तालाब की दुकान के बाहर भीड़ को चीरकर बोतल के साथ बाहर आए एक शख्स से दैनिक भास्कर ने पूछा कि इससे तो कोरोना संक्रमित होने का रिस्क है, शराब लेने आए व्यक्ति ने जवाब दिया, ये चीज ही कुछ ऐसी है क्या करें, होली के मौके पर तो इतनी भीड़ आम है। बीमारी के बारे में सोच पाते तो हम शराब ही नहीं पीते…इतना कहकर वह शख्स चला गया।

दिन भर शराबियों ने मचाया बवाल
शराब पीने और पिलाने के नाम पर शहर के कई हिस्सों में बवाल हुए। अलग-अलग थानों में केस भी दर्ज किए गए हैं। एक मामला पुरानी बस्ती थाने का है यहां आलू यादव नाम के एक लड़के ने बंधवापारा के रहने वाले संतोष सेन नाम के युवक के सिर पर शराब की बोतल फोड़कर उसे घायल कर दिया। रायपुरा इलाके में मिथिलेश नाम के युवक ने अपने साथी को शराब पीने के लिए रुपए न देने की बात पर नुकीला हथियार मारकर घायल कर दिया।

गुढ़ियारी थाने में विमला बेसरा, उरला थाने में ईश्वर जोगी नाम के लोगों को शराब अवैध रूप से तस्करी करने के मामले में पकड़ा गया। इससे पहले शनिवार की रात को रावाभांटा की देशी शराब दुकान में शराब लेने गए एक युवक के साथ दुकान के सुरक्षाकर्मियों ने मारपीट की थी। डंडे के हमले में युवक का सिर फट गया था। खमतराई थाने में इस मामले में भी FIR की गई है।

Related posts

वैक्सीन डोज पर राजनीति शुरू; जानिए क्यों कांग्रेस की 4 राज्य सरकारें नहीं लगवाएंगी 18-45 ग्रुप को वैक्सीन

presstv

कोरिया-सविप्रा उपाध्यक्ष व विधायक गुलाब कमरो ने 4 करोड़ 11 लाख के लागत की विकास कार्यों की सौगात

presstv

उत्तर प्रदेश: विधि छात्रा के साथ यौन उत्पीड़न मामले में स्‍वामी चिन्‍मयानंद बरी

presstv

एक टॉपर का ‘आतंकवादी’ होना-पढ़े पूरी खबर

presstv

जन अदालत लगाकर रेत दिया साथी का गला:कांकेर में नक्सलियों ने 3 गांव के लोगों से पूछा- छोड़ें या मारें, ग्रामीण बोले- गद्दार की सजा मौत

Admin

नक्सलियों का आज भारत बंद:दंतेवाड़ा, सुकमा, गढ़चिरौली, कांकेर में मचाया उत्पात; मोबाइल टावर और वाहनों में लगाई आग, रास्ता बंद होने से वैक्सीनेशन के लिए जा रही टीम फंसी

presstv

Leave a Comment