August 2, 2021
presstv.in
गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही छत्तीसगढ़ भ्रष्टाचार राज्य विशेष

छत्तीसगढ़ के वन मण्डल मरवाही में जमकर हुआ घोटाला-डिएफओ एसडीओ और प्रभारी रेंजरों ने जमकर खाई मलाई, जांच ना हो इसलिए बांटे गए लाखो रुपये?

द प्रेस टीवी

साजिद अख़्तर-एडिटर इन चीफ

Mo-06268465145

गौरेला/पेंड्रा/मरवाही
आरटीआई और विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रभारी डिएफओ श्री राकेश मिश्रा द्वारा अपने चहेते रेंजरों और एसडीओ के माध्यम से फर्जी प्रमाणक बनाकर लाखो रुपयो का घोटाला 2020-21 के वित्तीय वर्ष में किया गया है। आडिट रिपोर्ट की सत्यापित छायाप्रति महालेखाकार कार्यालय रायपुर से मांगा गया है। और दूसरी कॉपी ट्रेजरी से भी मांगी गई है। क्योंकि वनमण्डल से जानकारी डीएफओ द्वारा नही दिया जाता है अगर डिएफओ ईमानदार होते तो आरटीआई में मांगी गई जानकारी तुरंत प्रदान कर देते। लेकिन अपना घोटाला छुपाने के कारण जानकारी नही दे रहे है? कैम्पा योजना में लाखों रूपयो का बन्दरगाह कर लिया गया है।

डिएफओ राकेश मिश्रा को फोन करने पर इनके द्वारा फोन रिसीव नही किया जाता है। अपने चहेते स्टेनो कश्यप नाम के व्यक्ति को सूचना का अधिकार का अधिकारी बनाया गया है, जो जानकारी देने से मना करता है? जिसकी शिकायत वन मंत्रालय में किया जा चुका है।

डिएफओ राकेश मिश्रा जिनकी योग्यता तो एसडीओ है लेकिन पीसीसीएफ कार्यालय में दाम चुकाकर डिएफओ बने हुए है? साथ ही ये मरवाही जिले के निवासी है नियमानुसार इनकी पदस्थापना ही अपने गृह जिले में किया जाना अनुचित है। इस मामले की भी आरटीआई वन मंत्रालय में लगाया जा चुका है।

हम बात कर रहे है कैम्पा योजना और रेगुलर मद में हुए करप्शन की जिसकी शिकायत महामहिम, वन मंत्रालय सहित मुख्यमंत्री से भी किया गया है। शिकायत की कॉपी ये है…….

1-

पेंड्रा, गौरेला, मरवाही और खोडरी वनपरिक्षेत्र में जमकर करप्शन किया गया है फर्जी बाउचर बनाया गया है और लाखो रुपयों का बंदरबांट कर लिया गया है।

2-

साथ ही खोडरी रेंज में पदस्थ रेंजर और उनके बाबू गुर्जर से जब इस मामले की जानकारी चाही गई तो उनके द्वारा कहा गया कि डिएफओ जो आदेश करते है वही हम लोग करते है, आप डिएफओ से बात करें।

विगत 10 सालो में पौधे रोपड़ पर नजर दौड़ाई जाए तो जंगल मे पेड़ पौधे बढ़ने के बजाए घट गए है। जो करोड़ो रुपयों के घोटाले से पर्दा उठा सकते है। साथ मे पौधे रोपड़ में लगने वाली सामग्रियों की खरीदी में जमकर घोटाले होते आये है। जिसकी जांच सिर्फ कागजों में होती है?

वन मण्डल मरवाही की अगली खबर जल्द ही प्रकाशित की जाएगी….

साजिद अख्तर(एडिटर इन चीफ)

 

 

पूर्व में प्रकाशित खबर की लिंक ये है…

मरवाही वन मण्डल के मरवाही, गौरेला, पेन्ड्रा और खोडरी वनपरिक्षेत्र में जमकर घोटाला, फर्जी देयक भुगतान का मामला, आर0टी0आई0 के जरिये मांगी गया दस्तावेज, और बैंक स्टेटमेन्ट के ट्रांजेक्सन दस्तातेजों की छायाप्रति, एक महीने में जानकारी नहीं देने पर मामला सीधा हाई कोर्ट में प्रस्तुत करने की तैयारी। – https://presstv.in/news/3138

 

Related posts

Govt notifies Covid-19 as disaster; announces Rs 4 lakh ex-gratia for deaths

Admin

ऑक्सीजन पर 120 मरीज, सिलेंडर सिर्फ 3; कलेक्टर-एसपी ने आधी रात को 63 सिलेंडर मंगाकर दीं सांसें

presstv

MP में ताऊ ते तूफान का असर:राजधानी समेत प्रदेश के सभी जिलों में गरज-चमक और तेज हवा के साथ आज भी होगी बारिश, इंदौर में तेज हवा के साथ बूंदाबांदी हुई

presstv

छत्तीसगढ़ के 5 और जिलों में बढ़ा लॉकडाउन:​​​​​​​रायगढ़, बालोद, बिलासपुर 6 मई और अंबिकापुर, बलरामपुर 5 मई तक कंटेनमेंट जोन घोषित, अब तक 16 जिलों में बढ़ाया जा चुका है बंद

presstv

दिल्ली सरकार का दावा- केंद्र ने घर तक राशन पहुंचाने की योजना रोकी, केंद्र ने आरोप आधारहीन बताया

presstv

कोरोना टीकाकरण के तीसरे चरण से पहले दिल्‍ली सरकार का ऐलान, हमारे पास नहीं है वैक्‍सीन

presstv

Leave a Comment