January 27, 2022
presstv.in
Other

पूर्व सांसद डॉ. खेलन राम जांगड़े का हार्ट अटैक से निधन; 30 साल पहले लोकसभा सदस्य रहे, फिर बिलासपुर से नहीं जीत सकी कांग्रेस

बिलासपुर
छत्तीसगढ़ में बिलासपुर से सांसद रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. खेलन राम जांगड़े का निधन।

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से सांसद रहे वरिष्ठ कांग्रेस नेता डॉ. खेलन राम जांगड़े (75) का शुक्रवार दोपहर करीब 2.50 बजे को हार्टअटैक से निधन हो गया। वह दो दिनों से बीमार थे। उनका उपचार वंदना कोविड अस्पताल में चल रहा था। उनकी RC-PCR रिपोर्ट निगेटिव थी, लेकिन सीटी स्कैन में संक्रमण दिखाई देने के चलते उन्हें भर्ती कराया गया था। उनका अंतिम संस्कार कोविड प्रोटोकॉल के तहत शनिवार को सरकंडा मुक्ति धाम में किया जाएगा।

 

पहली बार 1980 में मुंगेली से चुने गए थे विधायक, फिर सांसद बने
डॉ. खेलन राम जांगड़े 1980 में मुंगेली से विधायक चुने गए। उसके बाद 1984 से 1989 तक बिलासपुर से सांसद रहे। हालांकि, दूसरी बार उनको हार का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही कांग्रेस का विजय रथ भी बिलासपुर लोकसभा में रुक गया। उनके बाद कोई भी कांग्रेस उम्मीदवार अभी तक अपनी जीत दर्ज नहीं कर सका है। परिवार में 7 बेटियां व एक बेटा है। दो बेटियों की शादी हो चुकी है, बाकी 5 विभिन्न विभागों में अफसर हैं। बेटा अनिल जांगड़े व्यवसायी हैं।

आयुर्वेद डॉक्टर थे, जनसंघ नेता राजनीति में लाए और कांग्रेस ज्वॉइन कराई
डॉ. जांगड़े ने रायपुर से आयुर्वेद में डॉक्टरी पास की थी। इसके बाद वह मुंगेली के पास फुलवारी गांव में प्रैक्टिस करते थे। उनके राजनीति में आने को लेकर एक किस्सा भी मशहूर है। वरिष्ठ पत्रकार शशि कोनहेर बताते हैं कि जनसंघ के कद्दावर नेता स्व. निरंजन लाल केशरवानी ने उन्हें राजनीति में आने के लिए प्रेरित किया। हालांकि, उनको कांग्रेस में जाने की सलाह दी। इसके पीछे क्या कारण था, इस संबंध में किसी को कोई जानकारी नहीं है।

पूर्व मुख्यमंत्री के नजदीक आए और फिर मिला विधानसभा का टिकट
बताया जाता है कि इसके बाद डॉ. जांगड़े तत्कालीन मुख्यमंत्री स्व. प्रकाश चंद्र सेठी के मुंगेली प्रवास के दौरान उनसे मिले। डॉ. जांगड़े की प्रसिद्धि को देखते हुए वह CM के करीबी हो गए। इसके बाद उन्हें मुंगेली विधानसभा से टिकट दिया गया। पूर्व मुख्यमंत्री स्व. अजीत जोगी ने उन्हें छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग का सदस्य बनाया था। वे कुछ समय तक कार्यकारी अध्यक्ष भी रहे। आम लोगों में भी उनकी सरल छवि थी। पिछले कुछ सालों से डॉ. जांगड़े राजनीति से दूर हो चुके थे।

Related posts

माउंट एवरेस्ट तक पहुंचा कोरोना वायरस, पर्वतारोही हुआ COVID-19 पॉजिटिव

presstv

महाराष्ट्र में फिर लॉकडाउन की तैयारी:CM उद्धव ठाकरे ने अफसरों से कहा- लॉकडाउन की स्ट्रैटजी बनाएं; एक ही दिन में 40 हजार से ज्यादा केस आने से चिंता बढ़ी

presstv

कोरोना: महामारी की दूसरी लहर से पहले कई राज्यों ने बंद किए थे अपने विशेष कोविड सेंटर

presstv

दुर्ग में टोटल लॉकडाउन:जिले में 6 से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा, इमरजेंसी सेवाओं की छूट; कलेक्टर की अपील- घर में रहें, सुरक्षित रहें

presstv

How can you eat bats and dogs’: Shoaib Akhtar ‘really angry’ over coronavirus outbreak

Admin

राजद्रोह क़ानून को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से जवाब मांगा

presstv

Leave a Comment