January 27, 2022
presstv.in
_1620209730
Other छत्तीसगढ़ पश्चिम बंगाल राजनीति राज्य विशेष

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा का विरोध:छत्तीसगढ़ भाजपा के नेता अपने-अपने घरों के बाहर धरने पर बैठे, रमन सिंह ने कहा- लोकतंत्र के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ

रायपुर
पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह वरिष्ठ नेताओं के साथ रायपुर के मौलश्री विहार स्थित अपने घर में कुछ इस तरह विरोध जताते नजर आए।

पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद भड़की हिंसा में भाजपा कार्यकर्ताओं के नुकसान के खिलाफ भाजपा ने देश भर में आज धरना शुरू किया। छत्तीसगढ़ में लाॅकडाउन की वजह से भाजपा के सीनियर नेता अपने घरों के सामने धरने पर बैठे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने कहा, जो बंगाल में हो रहा है लोकतंत्र के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ। उन्होंने हिंसा को तत्काल खत्म कर कानून-व्यवस्था बहाल करने की मांग की।

रमन सिंह ने कहा, पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव परिणाम आने के बाद के तीन दिन में लोकतंत्र के इतिहास को कलंकित करने वाली हिंसा को पूरे देश ने देखा है। महिलाओं को घसीटकर घर से बाहर निकाला जा रहा है। युवकों की पीट-पीटकर हत्या हो रही है। उनके घरों को नष्ट किया जा रहा है। भाजपा के कार्यालय को आग लगाया जा रहा है। यह एक जगह की बात नहीं है। पूरे पश्चिम बंगाल के गांव-गांव में यह किस्सा दोहराया जा रहा है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, सत्ता के मद में चूर ममता बनर्जी के गुंडे उनके इशारे पर जिस तरह का आतंक मचा रहे हैं। ऐसा प्रजातंत्र के इतिहास में कभी नहीं हुआ है। रमन सिंह के निवास पर भाजपा सांसद रामविचार नेताम, प्रदेश संगठन मंत्री पवन साय, पूर्व मंत्री राजेश मूणत और पूर्व सांसद अभिषेक सिंह भी धरने पर बैठे थे। भाजपा का यह धरना शाम 5 बजे तक चलना है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, अपनी पत्नी कौशल्या साय एवं भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिति सदस्य दीपक अंधारे के साथ अपने गांव बगिया स्थित घर में ही धरने पर बैठे हैं।
भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, अपनी पत्नी कौशल्या साय एवं भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिति सदस्य दीपक अंधारे के साथ अपने गांव बगिया स्थित घर में ही धरने पर बैठे हैं।

हिंसा खत्म करने और दोषियों पर कार्रवाई की मांग

भाजपा नेताओं ने कहा, वे लोग पश्चिम बंगाल में हिंसा खत्म करने और हत्या, मारपीट, आगजनी में शामिल लोगों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। डॉ. रमन सिंह ने कहा, जो लोग हिंसा में शामिल हैं, उनके नाम आइडेंटीफाई हैं। उनके ऊपर हत्या का मामला दर्ज कर कठोर से कठोर कार्रवाई हो।

बृजमोहन अग्रवाल ने की फांसी की मांग

भाजपा विधायक और पूर्व मंत्री बृजमाेहन अग्रवाल रायपुर के शंकर नगर स्थित बंगले के बाहर धरने पर बैठे। इस दौरान उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर हत्या और दुष्कर्म का आरोप लगाया। उन्होंने हिंसा में शामिल लोगों को फांसी देने की मांग की।

अपने सरकारी बंगले के बाहर मंच बनाकर अकेले ही धरने पर बैठे बृजमोहन अग्रवाल।
अपने सरकारी बंगले के बाहर मंच बनाकर अकेले ही धरने पर बैठे बृजमोहन अग्रवाल।

Related posts

मनेन्द्रगढ़ वन मण्डल को लेकर कुछ तथाकथित पत्रकारों द्वारा फर्जी एवं भ्रामक खबर फैलाने का मामला शुर्खियो में? ब्लैकमेलिंग का आरोप?

Admin

पश्चिम बंगाल: भाजपा के सभी 77 विधायकों को सुरक्षा मिली, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दी मंज़ूरी

presstv

MP में कांग्रेस विधायक की गर्लफ्रेंड ने किया सुसाइड:उमंग सिंघार के साथ भोपाल में तीसरी शादी करने वाली थी सोनिया, मेट्रिमोनियल वेबसाइट पर हुई थी मुलाकात; अंतिम संस्कार में भी पहुंचे विधायक

presstv

IAF ने दुबई, सिंगापुर से 9 क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनरों को किया एयरलिफ्ट

presstv

अफगानिस्तान पर 7 देशों ने अपनाया डोभाल का घोषणापत्र, आतंकवाद रोकना प्राथमिकता

Admin

US House of Representatives passes Trump-backed coronavirus relief package

Admin

Leave a Comment