January 27, 2022
presstv.in
corona_1620809497
Covid-19 Other जीवन शैली तकनीक देश दुनिया राज्य विशेष शिक्षा स्वस्थ्य

कोरोना का टीका इसलिए भी जरूरी:वैक्सीन ले चुके लोगों को कोरोना का खतरनाक वैरिएंट B.1.617 संक्रमित तो कर सकता है लेकिन हालात जानलेवा नहीं बनेंगे

  • भारतीय और ब्रिटिश वैज्ञानिकों की संयुक्त रिसर्च में किया गया दावा

वर्तमान में कोरोना के जिस खतरनाक वैरिएंट से संक्रमण फैल रहा है, उसे B.1.617 नाम दिया गया है। यह फाइजर और कोविशील्ड वैक्सीन ले चुके लोगों को भी संक्रमित कर रहा है। भारतीय और ब्रिटिश वैज्ञानिकों की नई रिसर्च में दावा किया गया है कि कोरोना का यह रूप वैक्सीन ले चुके लोगों को संक्रमित तो कर सकता है लेकिन हालत जानलेवा नहीं बना पाएगा। वैक्सीन के दोनों डोज ले चुके लोगों पर इसका जानलेवा असर नहीं होगा।

यह दावा इंडियन सार्स-कोव-2 जिनोमिक कनसोर्शिया और ब्रिटिश वैज्ञानिकों की संयुक्त रिसर्च में किया गया है।

मार्च-अप्रैल में इस वैरिएंट में संक्रमण फैलाया
शोधकर्ता और CSIR इंस्टीट्यूट ऑफ जिनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी के हेड अनुराग अग्रवाल के मुताबिक, रिसर्च मार्च और अप्रैल में हुई है। शोधकर्ताओं ने वैक्सीन के पूरे डोज ले चुके स्वास्थ्यकर्मियों पर रिसर्च की। ब्लड सैम्पल के जरिए इनकी जांच हुई।

शोधकर्ता अनुराग अग्रवाल के मुताबिक, मार्च और अप्रैल के दौरान ही सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले कोरोना के इसी वैरिएंट के कारण बढ़े हैं, लेकिन जिन लोगों ने वैक्सीन की पूरी डोज ली हैं उनमें इसका संक्रमण जानलेवा नहीं हुआ।

WHO ने भी इसलिए इसे चिंताजनक बताया
विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने हाल ही में कोरोना के इस वैरिएंट B.1.617 को लेकर चिंता जताई थी। WHO ने इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न कहा है। जिसका मतलब है, यह काफी संक्रामक है। मौजूदा दवाओं और वैक्सीन का इस पर असर कम हो रहा है।

भारत में मामले बढ़ने के लिए यही वैरिएंट जिम्मेदार
WHO ने बुधवार को कहा, भारत में कोरोना के मामले बढ़ने के लिए कोरोना का यही वैरिएंट जिम्मेदार है। कोरोना का यह वैरिएंट भारत के समेत दुनिया के 44 देशों में मिला है। भारत में पहली बार B.1.617 वैरिएंट पिछले साल अक्टूबर में मिला था, जब 44 देशों के 4,500 से अधिक सैम्पल की जांच हुई थी।

Related posts

भारतीय-अमेरिकी कपल ने भारतीयों को इस काम के लिए दिया एक करोड़ से ज्‍यादा का दान

presstv

पर्यावरण मंत्रालय का अनुमानित बजट तीन साल में सबसे कम, 900 करोड़ अतिरिक्त फंड की ज़रूरत: समिति

presstv

बयान चुनावी है:बंगाल, तमिलनाडु और केरल में क्षेत्रीय दलों की बढ़त से जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ में उत्साह, अमित जोगी ने कहा- क्षेत्रीय दल ही दे सकते हैं भाजपा को टक्कर

presstv

महाराष्ट्र: ठाणे के निजी अस्पताल में आग लगने के बाद चार मरीज़ों की मौत

presstv

रॉ मटेरियल देने के लिए कैसे राजी हुआ अमेरिका:प्रभावशाली भारतीयों और कई अमेरिकी सांसदों ने बाइडेन पर दबाब बनाया, जिसके चलते वैक्सीन के रॉ मटेरियल से प्रतिबंध हटा

presstv

MP में ताऊ ते तूफान का असर:राजधानी समेत प्रदेश के सभी जिलों में गरज-चमक और तेज हवा के साथ आज भी होगी बारिश, इंदौर में तेज हवा के साथ बूंदाबांदी हुई

presstv

Leave a Comment