June 23, 2021
presstv.in
Covid-19 Other मध्य प्रदेश राज्य विशेष

कोराना वालेंटियर और पुलिस ने चेकिंग के लिए रोका ट्रॉला, वाहन में भूसे के नीचे निकले 67 गाय-बछड़े

धार
ट्रॉले में पटिए लगाकर गाय और बछड़े भरे गए थे।

एक तरफ प्रकृति की मार कोराना से हर कोई डरा सहमा है तो दूसरी तरफ मानवता को शर्मसार करने वाली तस्वीर भी सामने आई है। धार जिले के अमझेरा अम्बिका चौराहे पर सोमवार को वाहन चेकिंग के दौरान ट्रॉले के अंदर भूसे की बोरी के नीचे 67 गाय और बछड़े मिलने के बाद हड़कंप मच गया। स्थानीय पुलिस और गांव के युवा वालेंटियर प्रतिदिन की तरह कोराना कर्फ्यू मे आने-जाने वाले वाहनों की चेकिंग कर रहे थे।

इस दौरान दोपहर 12 बजे मागोद की ओर से ट्रॉला क्रमांक RJ- 09- GC- 6245 तेज गति के आया। इस ट्रॉले को मौजूद युवकों और पुलिस ने रोका। वाहन चालक और क्लिनर से पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि इसमें भूसा भरा हुआ है। युवकों को शंका हुई कि कुछ गड़बड़ है। एक पुलिसकर्मी और एक युवक ने ट्रॉले पर चढ़कर त्रिपाल हटाकर देखा तो अंदर गाय बछड़े ठूंस ठूंस कर भरे थे। वाहन चालक और क्लिनर इस दौरान फरार हो गए। पुलिस ने पूरी त्रिपाल को खोला। ट्रॉले के अंदर दो हिस्सों में 67 गाय बछड़े भरे थे।

यह देखकर मौजूद लोग हैरत मे पड़ गए। पुलिस ने ट्रॉले को जब्त कर कार्रवाई की। संभवत: यह मवेशी बूचड़खाने ले जाना बताया जा रहा था। पूछताछ के दौरान पुलिस को चालक गुमराह कर रहा था। जांच के दौरान दोनों का अचनाक भाग जाना, भी पुलिस जांच में जोड़ रही है। अम्बिका चौराहे पर हिन्दू सगठन सदस्य भी पहुंच गए थे। 67 गाय बछड़े में से एक गाय की मौत अंदर हो गई थी। अन्य गम्भीर गाय को अमझेरा गौशाला छोड़ा गया। गाय की नस्ल देशी ओर गिर गाय बताई जा रही है।

ऊपर भूसा नीचे पटिये लगाकर दो हिस्सों में भरी थी 67 गाय-बछड़े

राजस्थान परमिट ट्रॉले मे गाय और बछड़े को बड़ी बेरहमी से ठूंस-ठूंस कर भरा गया था। ट्रॉले मे बड़े शातिर तरीके से 67 गाय बछड़े भरे गए थे। ट्रॉले के ऊपर हिस्से में बड़ी सख्या में भूसे की बोरी इसके ऊपर त्रिपाल, अंदर की ओर पटिये लगाकर दो हिस्सों में 67 गाय -बछड़े थे। एक गाय की मौत अंदर ही हो चुकी थी। वही अधिक क्षमता से भरे होने से कई गाय बछड़े गम्भीर रूप से घायल है। बताया जा रहा है कि कई मवेशी के पैर तक टूट गए है। सभी गाय बछड़ों को सुरक्षित ट्रॉले से उतारकर अमझेरा श्री कृष्ण रुक्मणि गौशाला छोड़ा गया। जहां घायल गाय का इलाज भी किया जा रहा है। अमझेरा पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

गायों को गौशाला भिजवा दिया गया।
गायों को गौशाला भिजवा दिया गया।

बड़ा सवाल कर्फ्यू के बाद भी कहा से आया ट्रॉला

जिस तरह ट्रॉले मे शातिर तरीके से 67 गाय और बछड़े भरे गए थे ये मवेशी कहा से आ रहे थे और कहा जा रहे थे, यह एक प्रश्न बन गया है। इन दिनों मध्य प्रदेश और राजस्थान दोनो सीमा पर चेकिंग सख्ती से की जा रही है। वही इस बीच कई जिलों की सीमा, चेकिंग नाके भी आते है। जहां से यह ट्रॉला गुजरा, वहां पर किस तरह चेकिंग हुई यह भी सवाल खड़े कर रहा है। अमझेरा के सेवा दे रहे युवा वालेंटियर और पुलिस की सतर्कता से यह सफलता मिली है।

घबरा गया चालक

अमझेरा पुलिस थाने के TI रतनलाल मीणा ने बताया कि चालक को जब रोका गया तो वह घबरा गया था। तभी शंका हो गई थी। ऊपर भूसे की लदालद बोरी भरी थी और नीचे दो हिस्सों में पटिये के बीच 67 गाय बछड़े भरे थे। एक गाय की मौत हो गई है। केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। युवाओं और पुलिस के समन्वय से सफलता मिली है।

रिपोर्ट: गोपाल खंडेलवाल, अमझेरा (धार)

Related posts

कोरिया वनमण्डल दूध देने वाली गाय-भ्रष्टाचार चरम पर, फर्जी बाउचरो से कराणो का वारा न्यारा

presstv

मणिपुर: असम राइफल्स के मेजर ने कथित तौर पर ग्रामीण को गोली मारी, पुलिस करेगी जांच

presstv

भारत में आए कोरोना के 56 हजार से ज्‍यादा केस, पिछले 24 घंटे में 271 लोगों की गई जान

presstv

MP में 12,379 नए केस, 103 मौतें:पहली लहर की तुलना में इस बार 2 गुना मौतें; पॉजिटिव केस 4 गुना ज्यादा, 3 गुना से अधिक स्वस्थ भी हुए

presstv

बहुचरणीय चुनाव पर पुनर्विचार करने का समय आ गया है: पूर्व निर्वाचन आयुक्त टीएस कृष्णमूर्ति

presstv

कोरोना जाए भाड़ में-क्योंकि होली है..!: 40 करोड़ की शराब पी गए रायपुर वाले, भीड़ में जूझकर ली बोतल; कोरोना के रिस्क पर बोले- क्या करें… चीज ही कुछ ऐसी है

presstv

Leave a Comment