December 6, 2022
THE PRESS TV (द प्रेस टीवी)
download
Covid-19 Other राज्य विशेष स्वस्थ्य

लॉकडाउन में ढील पर राज्यों को सलाह:केंद्र ने कहा- कोरोना प्रोटोकॉल पर कोताही न बरतें; टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट और वैक्सीनेशन पर फोकस रखा जाए

नई दिल्ली
  • कोरोना के मामले कम होने के बाद ओखला फल और सब्जी मंडी में लोगों की भीड़ देखी गई। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया गया। दिल्ली में 14 जून से कुछ गतिविधियों को छोड़कर सभी गतिविधियों की अनुमति दी गई है।

देश के कई राज्यों में अनलॉक प्रक्रिया अब शुरू हो चुकी है। इसके बाद से कई जगहों भीड़ की फोटोज ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। इस बीच केंद्र ने राज्यों को लॉकडाउन में ढील देने के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल के पालन में किसी भी तरह की कोताही न बरती जाए।

केंद्र ने राज्यों को 5 सूत्रीय फॉर्मूले को सख्ती से लागू करने का निर्देश दिया है। इसमें कोरोना प्रोटोकॉल का पालन, टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट और वैक्सीनेशन शामिल है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों के चीफ सेक्रेटरीज को चिट्‌ठी लिखकर कहा है कि आज के हालात में संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए वैक्सीनेशन ही सबसे बड़ा हथियार है।

केंद्र की चिट्‌ठी में राज्यों को निर्देश

  • मास्क पहनना, समय-समय पर हाथ साफ करना और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कराया जाए। इसके साथ ही बंद जगहों में वेंटिलेशन के ऊपर भी काम किया जाए।
  • कई जगह प्रतिबंधों में ढील मिलते ही सब्जी मंडियों वगैरह में भीड़ देखी जा रही है और कोरोना नियमों का ध्यान नहीं रखा जा रहा। ये आने वाले दिनों के लिए अच्छी बात नहीं है।
  • कोरोना के मामले लगातार घट रहे हैं, लेकिन इस वजह से टेस्टिंग में कमी नहीं आनी चाहिए। स्थिति हर पल बदल रही है, ऐसे में ऐक्टिव केसों में जरा सी बढ़त या फिर पॉजिटिविटी दर बढ़ने जैसे शुरुआती संकेतों को लेकर सचेत रहना चाहिए।
  • अगर किसी छोटे इलाके में केसों में बढ़ोतरी देखी जा रही है, तो स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी दिशा-निर्देशों के आधार पर कदम उठाकर उसे स्थानीय स्तर पर ही सीमित किया जाए।
  • सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाए, ताकि ज्यादा से ज्यादा आबादी को तेजी से टीका लगाया जा सके। इससे कोरोना की अगली लहर के खिलाफ हमारी लड़ाई और मजबूत होगी।
  • राज्य और केंद्रशासित प्रदेश शर्तों के साथ पाबंदियों में ढील दें। स्थिति पर पैनी नजर रखे ताकि कोरोना नियमों की जरा भी अनदेखी न हो सके।

बीते दिन देश में 60,754 केस
देश में शुक्रवार को 60,754 संक्रमितों की पहचान हुई, 97,854 मरीज ठीक हो गए, जबकि 1,645 ने जान गंवा दी। इस तरह एक्टिव केस यानी इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 38,758 की कमी आई। राहत की खबर है कि बीते दिन देश के 22 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में 500 से भी कम नए केस आए। वहीं, 14 राज्यों में 500 से ज्यादा संक्रमितों की पहचान हुई।

Related posts

रवींद्र जडेजा टी-20 वर्ल्ड कप से भी बाहर हुए:घुटने की चोट ने बढ़ाई परेशानी

Admin

ज्ञानवापी मामला: हिंदू पक्ष की ‘शिवलिंग’ की कार्बन डेटिंग करवाने से जुड़ी याचिका ख़ारिज

presstv

नंदीग्राम में ममता की BJP को चेतावनी:दीदी बोलीं- मेरे साथ हिंदू कार्ड मत खेलो, मैं भी हिंदू हूं और घर से चंडी पाठ करके निकलती हूं

presstv

गुजरात में भले ही AAP गूंजी, लेकिन न भूलें कि UP 2014 में BSP को 20% वोट के बाद भी मिलीं थीं 0 सीटें

Admin

सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व सीजेआई रमना का आदेश पलटकर रजिस्ट्रार की स्थायी नियुक्ति रद्द की

Admin

घोटाले का ‘Plantation’: कागजों में बढ़ रही है ‘हरियाली’ जमीन से गायब हुए पौधे, मनेन्द्रगढ़ वनमण्डल का मामला, सीएम के आगमन पर घोटालो की विडियो फूटेज और फोटो सौपने की तैयारी

Admin

Leave a Comment