November 27, 2021
presstv.in
07_1636727043
जीवन शैली देश दुनिया वर्ल्ड न्यूज

चिली में कपड़ों का पहाड़:सालाना 39 हजार टन कूड़े का ढेर कपड़ों का कचरा, कूड़े के ढेर में जरूरत के कपड़े ढूंढ रहे लोग

सेंटियागो

दक्षिण अमेरिकी देश चिली अपनी खूबसूरत पहाड़ों के लिए दुनिया भर में जाना जाता है। इस देश में 20 हजार फीट से ऊंचे 22 पहाड़ हैं, लेकिन चिली के एटाकामा रेगिस्तान में एक ऐसा पहाड़ है जो कपड़ों और जूतों और से बना है। इस पहाड़ में क्रिसमस स्वेटर से लेकर स्की बूट तक के कचरे शामिल हैं।

यहां फेंके गए कपड़ों का पहाड़ हर साल कम से कम 39 हजार टन बढ़ता जा रहा है। तेजी से बढ़ रहे फैशन इंडस्ट्री के कारण प्रदूषण भी बढ़ता जा रहा है। कपड़ों के ढेर को खुले में छोड़ने और जमीन में दफनाने पर ये पर्यावरण को नुकसान पहुंचाते हैं। इसके केमिकल हवा और अंडरग्राउंड वाटर में पहुंचकर उन्हें गंदा करते हैं।

हर साल पोर्ट पर आते हैं 59 हजार टन कपड़े
चिली लंबे समय से पुराने और बिना बिके कपड़ों का हब रहा है। ये कपड़े चीन या बांग्लादेश में बने होते हैं। उत्तरी चिली के ऑल्टो होस्पिसियो इलाके में इक्विक पोर्ट पर हर साल करीब 59 हजार टन कपड़े आते हैं, जहां इसे कपड़ों के व्यापारी खरीदते हैं। यहां से सीमा पार दूसरे लैटिन अमेरिकी देशों में कपड़ों की तस्करी भी की जाती है।

11 तस्वीरों में देखिए पहाड़ का मंजर…

कुछ लोग अपने और अपने परिवार के लिए इस्तेमाल किए गए कपड़ों को छांटने भी पहुंचते हैं। हालांकि कई लोग इसे बेचने के लिए भी इकट्ठा करते हैं।
कुछ लोग अपने और अपने परिवार के लिए इस्तेमाल किए गए कपड़ों को छांटने भी पहुंचते हैं। हालांकि कई लोग इसे बेचने के लिए भी इकट्ठा करते हैं।
संयुक्त राष्ट्र की 2019 की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2000 और 2014 के बीच दुनियाभर में कपड़ों का उत्पादन दोगुना हो गया। वैश्विक स्तर पर कुल पानी की बर्बादी के लिए कपड़ा उद्योग 20% जिम्मेदार है।
संयुक्त राष्ट्र की 2019 की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2000 और 2014 के बीच दुनियाभर में कपड़ों का उत्पादन दोगुना हो गया। वैश्विक स्तर पर कुल पानी की बर्बादी के लिए कपड़ा उद्योग 20% जिम्मेदार है।
सिंथेटिक केमिकल से ट्रीट किए गए कपड़ो को बायोडिग्रेड होने में 200 साल लग सकता है, और यह टायर या प्लास्टिक के जैसे ही जहरीले होते हैं।
सिंथेटिक केमिकल से ट्रीट किए गए कपड़ो को बायोडिग्रेड होने में 200 साल लग सकता है, और यह टायर या प्लास्टिक के जैसे ही जहरीले होते हैं।
कपड़ा उद्योग में बड़े पैमाने पर बच्चों को कम वेतन पर काम करने के लिए मजबूर किया जाता है।
कपड़ा उद्योग में बड़े पैमाने पर बच्चों को कम वेतन पर काम करने के लिए मजबूर किया जाता है।
डंपिंग साइट का एक ऊपरी दृश्य जिसमें सैकड़ों टन कपड़ों का एक छोटा सा हिस्सा दिखाई दे रहा है।
डंपिंग साइट का एक ऊपरी दृश्य जिसमें सैकड़ों टन कपड़ों का एक छोटा सा हिस्सा दिखाई दे रहा है।
संयुक्त राष्ट्र की 2019 की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2000 और 2014 के बीच दुनियाभर में कपड़ों का उत्पादन दोगुना हो गया। वैश्विक स्तर पर कुल पानी की बर्बादी के लिए कपड़ा उद्योग 20% जिम्मेदार है।
संयुक्त राष्ट्र की 2019 की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2000 और 2014 के बीच दुनियाभर में कपड़ों का उत्पादन दोगुना हो गया। वैश्विक स्तर पर कुल पानी की बर्बादी के लिए कपड़ा उद्योग 20% जिम्मेदार है।
3 लाख की आबादी वाले इस इलाके में गरीब लोग अपनी जरूरत का सामान ढूँढ़ने के लिए कूड़े के ढेर में जाते हैं।
3 लाख की आबादी वाले इस इलाके में गरीब लोग अपनी जरूरत का सामान ढूँढ़ने के लिए कूड़े के ढेर में जाते हैं।
एक महिला उपयोग किए गए कपड़े को ढेर में ढूढ़ रही है। चिली में हर साल इतने कपड़े आते हैं क व्यापारी इसे बेचने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। कोई भी इसे कहीं और ले जाने के लिए टैरिफ को भरने के लिए तैयार नहीं है।
एक महिला उपयोग किए गए कपड़े को ढेर में ढूढ़ रही है। चिली में हर साल इतने कपड़े आते हैं क व्यापारी इसे बेचने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। कोई भी इसे कहीं और ले जाने के लिए टैरिफ को भरने के लिए तैयार नहीं है।
इकोफाइब्रा और इकोसाइटेक्स ऐसी कंपनियां हैं जो इन कपड़ों को रीसायकल करने का काम करती है। इकोफाइब्रा के फाउंडर फ्रैंकलिन जेपेडा कहते हैं कि समस्या यह है कि कपड़े बायोडिग्रेडेबल नहीं हैं और इसमें केमिकल्स मिले हैं, इसलिए इसे नगरपालिका के लैंडफिल में स्वीकार नहीं किया जाता है।
इकोफाइब्रा और इकोसाइटेक्स ऐसी कंपनियां हैं जो इन कपड़ों को रीसायकल करने का काम करती है। इकोफाइब्रा के फाउंडर फ्रैंकलिन जेपेडा कहते हैं कि समस्या यह है कि कपड़े बायोडिग्रेडेबल नहीं हैं और इसमें केमिकल्स मिले हैं, इसलिए इसे नगरपालिका के लैंडफिल में स्वीकार नहीं किया जाता है।
सेंटियागो में इकोसाइटेक्स इकोलॉजिक यार्न फैक्टरी में काटे गए कपड़ों की कतरने।
सेंटियागो में इकोसाइटेक्स इकोलॉजिक यार्न फैक्टरी में काटे गए कपड़ों की कतरने।
सेंटियागो में इकोसाइटेक्स कंपनी का का स्टोर, जहां इस्तेमाल किए गए कपड़े बेचे जाते हैं। । इसे रोसारियो हेविया ने 2019 में इकोसाइटेक्स को लॉन्च करने से पहले खोला था। यहां बच्चों के कपड़ों को रीसायकल किया जाता था। यह कंपनी छोड़े गए कपड़ों के टुकड़ों से धागा बनाती है।
सेंटियागो में इकोसाइटेक्स कंपनी का का स्टोर, जहां इस्तेमाल किए गए कपड़े बेचे जाते हैं। । इसे रोसारियो हेविया ने 2019 में इकोसाइटेक्स को लॉन्च करने से पहले खोला था। यहां बच्चों के कपड़ों को रीसायकल किया जाता था। यह कंपनी छोड़े गए कपड़ों के टुकड़ों से धागा बनाती है।

Related posts

रेणु जोगी के बयान ने बढ़ाया CG का सियासी पारा:कहा- धरमजीत का रुझान BJP जबकि प्रमोद और देवव्रत का कांग्रेस की तरफ, मैं JCCJ में खुश हूं, पार्टी विलय की कोई चर्चा नहीं हुई है

presstv

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने कहा- ऑक्सीजन उपलब्ध कराना राज्य की जिम्मेदारी, समन्वय की केंद्रीय व्यवस्था बनाए; 24 घंटे में मरीज को मिले रिपोर्ट

presstv

आर्यन से सवाल-जवाब:NCB की SIT ने पूछा- क्रूज पर कैसे पहुंचे थे, ड्रग्स ली या नहीं, पहले दिया बयान वापस क्यों लिया

Admin

Shah Rukh Khan plays a scientist in Ranbir Kapoor, Alia Bhatt-starrer Brahmastra: report

Admin

सागर सरहदी: हक़-ए- बंदगी… अदा कर चले

presstv

50 हजार लोगों पर हुई रिसर्च में दावा:हृदय रोगों से बचना है तो हरी पत्तेदार सब्जियां खाएं, यह बीमारी का खतरा 25 फीसदी तक घटाती हैं

presstv

Leave a Comment