December 6, 2022
THE PRESS TV (द प्रेस टीवी)
article-image
कोरिया जिला खेल छत्तीसगढ़ भ्रष्टाचार राजनीति राज्य रोजगार विशेष व्यापार

कोरिया जिले में खुलेआम चल रहा सट्‌टे का कारोबार सब जानकर भी पुलिस बनी अनजान?

मनेंद्रगढ़/खोंगापानी/झगराखण्ड

एक रुपए को अस्सी रुपया बनाने के चक्कर में खासकर युवा वर्ग अधिक बर्बाद हो रहे हैं। सट्टे के इस खेल को बढ़ावा देने सटोरी ग्राहकों को मुफ्त में स्कीम देखने सट्टे नंबर वाले चार्ट उपलब्ध करा रहे हैं। इसका गुणा भाग कर ग्राहक सट्टे की चपेट में बुरी तरह से फंस कर अपना पैसा इस अवैध कारोबार में गंवा रहा है।

कभी चोरी-छिपे चलने वाला सट्‌टा बाजार आजकल कानून की ढीली पकड़ की वजह से किसके संरक्षण में खुलेआम संचालित हो रहा है? ओपन, क्लोज और रनिंग के नाम से चर्चित इस खेल में जिस प्रकार सब कुछ ओपन हो रहा है उससे यही प्रतीत होता है कि प्रमुख सटोरियों को कानून का कोई खौफ नहीं रह गया है।

सट्टा-मटका-क्या-है

मनेंद्रगढ़ और झगराखांड थाना क्षेत्र में इस खेल के बढ़ते कारोबार का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि महिलाएं एवं बच्चे भी दिन-रात अंकों के जाल में उलझे रहते हैं। प्रमुख सटोरियों के एजेंट जो पट्‌टी काटते हैं प्राय: हर गली-मोहल्ले में आसानी से पट्टïी काटते नजर आते हैं। इनमें से कुछ आदतन किस्म के लोग मनेंद्रगढ़ में नई सब्जी मंडी, मौहारपारा, नदीपार, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, आमाखेरवा, सिविल लाईन, सांई बाबा तिराहा एवं जेकेडी रोड ओव्हरब्रिज के पास तथा झगराखांड थाना क्षेत्र में बस स्टैंड, ऑटो स्टैंड के पास, रावण दहन ग्राउंड, एक नंबर दफाई, लेदरी में पुराना थाना के पीछे, जीएम ऑफिस के पास, खोंगापानी, मेन बाजार, एकतानर, बीसीम सहित अन्य क्षेत्रों में खुलेआम पट्टïी काटकर एवं मोबाइल के माध्यम से भी इस अवैध कारोबार को संचालित कर लोगों की गाढ़ी कमाई पर डाका डाल रहे हैं जिसकी जानकारी शायद पुलिस को छोड़कर सभी को है? सट्टïे के हिसाब-किताब की जगह बार-बार बदल कर प्रमुख सटोरिये अपनी होशियारी का भी परिचय देने की कोशिश करते हैं।

सूत्रों की मानें तो वर्तमान समय में उपरोक्त स्थानों पर यह कार्य धड़ल्ले से संचालित हो रहा है।

कुछ लोग ‘अचूक, और अन्य नामों से साप्ताहिक व मासिक सट्टïा चार्ट की भी बिक्री कर रहेे हैं जिसकी मांग सट्टïा प्रेमियों में ज्यादा है।गरीब बेरोजगार युवाओं को मोटे कमीशन का लालच देकर इस अवैध कारोबार में उतारा जा रहा है। आगे चलकर यही युवा अपराध की ओर अग्रसर हो जाते हैं। शिकायत होने पर जब पुलिस अभियान चलाती है तो प्रमुख सटोरियों को बक्श कर अक्सर इन्हीं युवाओं के खिलाफ कार्रवाई कर खानापूर्ति कर लेती है।

कानून का कोई भय नहीं?

हमने इस खबर को प्रमुखता से उठाया तो झगराखांड थाना क्षेत्र में सक्रिय खाईवाल इस कदर बेचैन हो गया और उसने कानून व्यवस्था को चुनौती दे डाली। सूत्रों की माने तो उसने यहां तक कहा है कि उसे इन खबरों से कोई फर्क नहीं पड़ता और अपनी तस्वीर तक प्रकाशित करने के लिए कह डाला। खाईवाल की दिलेरी यह दर्शाती है कि उसे कानून का कोई डर भय नहीं रह गया है।

  • जनप्रतिनिधियों ने कानून पर कसा तंज
  • पुलिस की भूमिका पर खड़े हो रहे सवाल

स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने बताया कि सट्टा के अवैध कारोबार ने कई घरों को तबाह कर दिया है। सब कुछ जानते हुए भी पुलिस जिस प्रकार आंख बंद किए बैठी है उससे पुलिस की भूमिका पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं?

रोक नहीं लगी तो करेंगे आंदोलन

कोयलांचल में जिस प्रकार सट्टा का अवैध कारोबार खुलेआम संचालित हो रहा है उससे यह साफ दिखता है कि उन्हें किनका संरक्षण प्राप्त है। इसके समूल नाश के लिए शीघ्र अभियान नहीं चलाया गया तो आंदोलन का रास्ता अपनाया जाएगा।

आखिर क्यों नहीं हो रही कार्रवाई

क्षेत्र में सट्टा के अवैध कारोबार से पुलिस की छवि धूमिल हो रही है। सट्टा पट्टी काटने वाले तक कानून के हाथ पहुंचते हैं, लेकिन खाईवाल के खिलाफ कभी कोई कार्रवाई क्यों नहीं की जाती?

Related posts

बर्दाश्त नहीं करेगा देश, अंकिता को जिंदा जलाए जाने पर बोले अरविंद केजरीवाल

Admin

मध्य प्रदेश में 2003 से 2018 के बीच कोई गोशाला नहीं बनी: सरकार

presstv

अस्पताल में बिजली गुल, 4 बच्चों की मौत:अंबिकापुर में SNCU वार्ड में भर्ती थे

Admin

माउंट एवरेस्ट तक पहुंचा कोरोना वायरस, पर्वतारोही हुआ COVID-19 पॉजिटिव

presstv

पटियाला हिंसा में मुख्य साजिशकर्ता बरजिंदर सिंह गिरफ्तार, केजरीवाल बोले- किसी को बख्शा नहीं जाएगा

Admin

वीजा मामले में भारत से भेदभाव कर रहा US:दिल्ली में अपॉइंटमेंट के बाद भी 833 दिन वेटिंग, चीन में ये मियाद सिर्फ 2 दिन

Admin

Leave a Comment