November 28, 2022
THE PRESS TV (द प्रेस टीवी)
Prison-Jail-Illustration-Pariplab-
देश दुनिया राजनीति राज्य विशेष

पटियाला हिंसा में मुख्य साजिशकर्ता बरजिंदर सिंह गिरफ्तार, केजरीवाल बोले- किसी को बख्शा नहीं जाएगा

नई दिल्ली: पटियाला हिंसा के मुख्य आरोपी और मुख्य साजिशकर्ता बरजिंदर सिंह परवाना को पुलिस ने रविवार सुबह मोहाली से गिरफ्तार कर लिया. आरोपी को सुबह 7.20 बजे मोहाली एयरपोर्ट पर विस्तारा की फ्लाइट से मुंबई लाया गया. इंस्पेक्टर शमिंदर सिंह के नेतृत्व में सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (CIA) की पटियाला टीम ने उसे मोहाली एयरपोर्ट पर गिरफ्तार किया.

पटियाला में शुक्रवार को काली माता मंदिर के बाहर दो गुटों के बीच एक रैली में तलवारें लहराने और पथराव करने के बाद तनाव पैदा हो गया था, जिसमें दो पुलिसकर्मियों समेत चार लोग घायल हो गए थे.

आईजी एमएस छिना के मुताबिक,पुलिस ने कल हिंसा के सिलसिले में छह प्राथमिकी दर्ज की और तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया.

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए 3 आरोपी हरीश सिंगला, कुलदीप सिंह दंथल और दलजीत सिंह हैं.

आईजी ने यह भी कहा कि इस मामले में किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा और घटना से जुड़े किसी भी आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा.

आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि पंजाब सरकार ने खालिस्तान विरोधी मार्च के दौरान पटियाला में हुई झड़पों और हिंसा पर सख्त कार्रवाई की है और किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा.

पटियाला में हिंसा के दौरान खालिस्तान बनाने के समर्थन में नारेबाजी किए जाने पर एक सवाल के जवाब में आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक ने कहा, ‘ऐसा कुछ नहीं होने देंगे.’

केजरीवाल ने शनिवार रात सूरत हवाईअड्डे पर पत्रकारों से कहा, ‘हिंसा या तनाव पैदा करने में शामिल किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा. पंजाब सरकार ने सुबह से ही कड़ी कार्रवाई की है और पटियाला में शांति कायम की गयी है. पंजाब की शांति भंग करने की कोशिश करने वाले लोगों से सख्ती से निपटा जाएगा, चाहे वे किसी भी पार्टी के हों.’

‘सरकार की नाकामी’

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने पटियाला में हुई हिंसा को पंजाब की आप नीत सरकार की ‘प्रशासनिक नाकामी और लापरवाही भरे राजनीतिक अवसरवाद’ का नतीजा बताया.

पटियाला में शुक्रवार को खालिस्तान विरोधी मार्च के दौरान दो गुटों में झड़प हो गई थी और इस दौरान तलवारें तक निकल आयीं. पुलिस को हालात पर काबू पाने के लिए गोलियां चलानी पड़ी.

घटना को लेकर मुख्यमंत्री भगवंत मान नीत आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार पर निशाना साधते हुए बादल ने कहा, ‘प्रशासनिक नाकामी और लापरवाही भरे राजनीतिक अवसरवाद का सीधा नतीजा है जो राज्य में मौजूदा शासन का हॉलमार्क (निशान) बन गया है.’

उन्होंने कहा, ‘महज कुछ सप्ताह में उन्होंने शांति और साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए पंजाबियों द्वारा दशकों से किए गए बलिदान को खतरनाक साम्प्रदायिक खाई के मुहाने लाकर खड़ा कर दिया है. यह साम्प्रदायिक घृणा की राजनीति का नतीजा है जो पिछले कुछ वर्षों से आप पंजाब में कर रही है.’

वहीं, हरियाणा के गुरुग्राम में राज्य के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित इस राज्य पर शासन करने के लिए ‘पूरी तरह अनुपयुक्त है.’

संघर्ष को बड़ी चिंता का विषय करार देते हुए भाजपा नेता ने कहा कि लोगों को शांति और विश्वास बनाए रखना चाहिए कि केन्द्र सरकार भारत में ऐसी गतिविधि की अनुमति नहीं देगी.

Related posts

राष्ट्रपति चुनाव: सहयोगी दलों और विपक्ष के साथ मिलकर काम करेगी बीजेपी, सर्वसम्मति से चुना जाएगा उम्मीदवार

Admin

कोरोना: महामारी की दूसरी लहर से पहले कई राज्यों ने बंद किए थे अपने विशेष कोविड सेंटर

presstv

US House of Representatives passes Trump-backed coronavirus relief package

Admin

ग्रेटर नोएडा में टीचर की पिटाई से छात्र की मौत:टेस्ट में फेल होने पर टीचर ने डंडे से पीटा था, आक्रोशित लोगों ने रास्ता जाम किया

Admin

गहलोत की तारीफ पर भड़के पायलट:कहा- बगावत करने वालों पर तुरंत एक्शन हो; CM की नसीहत- ऐसा बयान नहीं देना चाहिए

presstv

सागर-भोपाल में सीरियल किलर ने उजाड़े 4 परिवार, घर में अब खाने के लाले

Admin

Leave a Comment