November 26, 2022
THE PRESS TV (द प्रेस टीवी)
cgg_1664957351
छत्तीसगढ़ जीवन शैली दुर्ग जिला धर्म राज्य विशेष

बच्चा चोरी के शक में साधुओं की जमकर पिटाई

दुर्ग/भिलाई

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने साधुओं की जमकर पिटाई कर दी। लोगों ने लात-घूंसों और डंडों से साधुओं को इतना मारा कि एक साधु का सिर फट गया है। वहीं 2 और साधु भी बुरी तरह से घायल हुए हैं। मामला भिलाई-03 थाना क्षेत्र का है। इधर, पुलिस का कहना है कि शराब के नशे में बेवजह ही इनसे मारपीट की गई है। पिटने वाले तीनों साधु राजस्थान के अलवर के रहने वाले हैं।

भिलाई तीन थाना प्रभारी मनीष शर्मा ने बताया कि बुधवार सुबह 11-12 बजे के बीच की घटना है। लेकिन हैरानी की बात है कि ये मामला सामने नहीं आ सका था। पुलिस ने भी केस दर्ज नहीं किया था। गुरुवार को जब इस पिटाई का वीडियो वायरल हुआ, तब पूरे घटनाक्रम की जानकारी सामने आई है।

पुलिस के मुताबिक चरोदा क्षेत्र में कहीं से तीन साधु आ रहे थे। उसी दौरान किसी ने हल्ला करना शुरू कर दिया कि ये साधु बच्चा चोरी करते हैं। इसके बाद कुछ युवकों ने उन साधुओं को पीटना शुरू कर दिया। धीरे-धीरे लोगों की भीड़ वहां जुट गई। कई लोग एक साथ दौड़ते हुए मौके पर पहुंच गए और साधुओं को जमकर पीट दिया।

इसी टैक्सी में तीनों को बिठाया गया था।
इसी टैक्सी में तीनों को बिठाया गया था।

इसी दौरान किसी ने घटना की सूचना पुलिस को दे दी। कुछ ही देर बाद पुलिस का एक जवान मौके पर पहुंचा और उसने किसी तरह से तीनों साधुओं को एक टैक्सी में बिठा दिया। दूसरे पुलिस कर्मियों को मौके पर बुलाया गया। तब तक भीड़ उस टैक्सी तक भी पहुंच गई और वहां भी साधुओं को मारा गया।

इस मामले में एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने मामले की पूरी जानकारी ली है। उन्होंने टीआई मनीष शर्मा को फटकार लगाते हुए मामला दर्ज करने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मारपीट और बलवा का केस दर्ज किया है। पुलिस इस केस में 30 से ज्यादा लोगों से पूछताछ कर रही है।

राजस्थान के रहने वाले हैं साधु

बताया गया है कि जिन साधुओं की पिटाई की गई है वह राजस्थान के रहने वाले हैं। इनका नाम राजबीर सिंह, अमन सिंह और श्याम सिंह है। तीन रेलवे क्षेत्र चरोदा में काफी समय से किराए का मकान लेकर रह रहे थे। यहां वे राशन और कपड़े मांग कर अपना जीवन गुजारा कर रहे थे। टीआई का कहना है कि उन्हें इन साधुओं की कोई संदिग्ध गतिविधि अब तक नहीं मिली है। पब्लिक ने बच्चा चोरी का आरोप लगाकर इन्हें क्यों मारा, इसकी जांच की जा रही है।

इस तरह की भीड़ साधुओं को मारने पीछे दौड़ी थी।
इस तरह की भीड़ साधुओं को मारने पीछे दौड़ी थी।

शराब के नशे में की गई मारपीट

इस पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि बेवजह ही साधुओं पर शराब के नशे में हमला किया गया है। कुछ लोग चरोदा में दशहरे के मौके पर पार्टी कर रहे थे। इस बीच उन्होंने साधुओं को देखा, वहीं पर किसी ने ये हल्ला कर दिया कि ये लोग बच्चा चोरी करते हैं। इसके बाद शराब के नशे में इन्हीं लोगों ने पहले पहले साधुओं को पीटना शुरू किया। फिर धीरे धीरे भीड़ जुट गई और साधुओं को बच्चा चोर कहते हुए बुरी तरह मारा गया। तीन को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका उपचार जारी है।

अब पढ़िए बच्चा चोरी के नाम पर साधुओं को पकड़ने, पीटने की कुछ और खबरें

मथुरा के थाना जमुना पार क्षेत्र के लक्ष्मी नगर इलाके में लोगों ने एक साधु को उस समय पकड़ लिया जब वह दस साल के बच्चे के साथ घूम रहा था। लोगों ने साधु को बच्चा चोरी के शक में पकड़ा और पुलिस को सूचना दे दी। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस साधु को थाने ले आई जहां साधु के साथ मिला बच्चा उसका भतीजा निकला।

बच्चा चोरी होने के शक में स्थानीय लोगों ने साधु को पकड़ लिया
बच्चा चोरी होने के शक में स्थानीय लोगों ने साधु को पकड़ लिया

Related posts

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया का दावा:कोरोनावायरस पर 2015 से रिसर्च कर रहा है चीन, इसे जैविक हथियार की तरह इस्तेमाल करना चाहता था

presstv

राहुल फिर बोले, सावरकर ने अंग्रेजों से माफी मांगी थी:चिट्ठी लिखकर कहा था कि नौकर बने रहेंगे, गांधी-नेहरू ने ऐसा नहीं किया,इसके बाद बीजेपी तिलमिलाई

Admin

मध्य प्रदेश: बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने भोपाल के मॉल में नमाज़ अदा करने का विरोध किया

Admin

लता मंगेशकर के निधन पर शोक की लहर, विभिन्न हस्तियों ने दी श्रद्धांजलि

Admin

ब्लू टिक के लिए 660 रुपए:Twitter मालिक मस्क बोले- शिकायत करते रहो, पैसे तो देने होंगे

presstv

रिलायंस अस्पताल को फोन पर उड़ाने की धमकी

Admin

Leave a Comment