November 26, 2022
THE PRESS TV (द प्रेस टीवी)
sonia-kharge_1666778671
छत्तीसगढ़ भ्रष्टाचार राजनीति राज्य विशेष

IAS समीर विश्नोई और दो कारोबारियों को जेल

छत्तीसगढ़ के IAS अधिकारी समीर विश्नोई को 14 दिन की न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है। उनके साथ कोयला कारोबारी सुनील अग्रवाल और लक्ष्मीकांत तिवारी को भी जेल में रहना होगा। न्यायिक रिमांड की यह अवधि 10 नवम्बर को पूरी हो रही है। उस दिन तीनों आरोपियों को फिर से अदालत में पेश किया जाएगा।

प्रवर्तन निदेशालय ने 14 दिन की पूछताछ के बाद गुरुवार दोपहर बाद समीर विश्नोई, सुनील अग्रवाल और लक्ष्मीकांत तिवारी को अपर सत्र न्यायधीश की अदालत में पेश किया। ED की ओर से बताया गया कि तीनों अभियुक्तों से उनकी पूछताछ पूरी हो चुकी है। अब इनको न्यायिक हिरासत में भेज दिया जाए। बचाव पक्ष के वकीलों ने इसका कोई विरोध नहीं किया। इसके बाद अदालत ने तीनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश जारी कर दिया। इससे पहले सुनील अग्रवाल ने कारोबार के संचालन के लिए पत्नी के नाम पर पॉवर ऑफ अटॉर्नी जारी करने के लिए आवेदन दिया। ED के वकील ने इसके कुछ बिंदुओं पर आपत्ति की। उनका कहना था, इससे कारोबारी साक्ष्यों को बदले जाने की आशंका बढ़ जाएगी। बाद में सुनील अग्रवाल ने आवेदन वापस ले लिया। लक्ष्मीकांत तिवारी के वकील ने जेल में समय पर दवा आदि उपलब्ध कराने का आग्रह किया जिसे अदालत ने स्वीकार कर लिया। उसके बाद ED के अधिकारी तीनों को केंद्रीय जेल ले गये।

ED के अधिवक्ता बृजेश चंद्र मिश्रा ने जानकारी दी।
ED के अधिवक्ता बृजेश चंद्र मिश्रा ने जानकारी दी।

पूछताछ की जरूरत पड़ी तो फिर मांगेंगे कस्टडी

ED के अधिवक्ता बृजेश चंद्र मिश्रा ने बताया, पूछताछ के दौरान बहुत से नये तथ्य सामने आये हैं, उसको सार्वजनिक नहीं किया जा सकता। बहुत से दस्तावेज मिले हैं। कैश आदि की बात तो पहले भी आ चुकी है। उन सबकी जांच चल रही है। अगर फिर से पूछताछ की जरूरत पड़ी तो अदालत में आरोपियों में फिर से कस्टडी मांगेंगे। हालांकि बचाव पक्ष के वकीलों का कहना है, एक मामले में किसी अभियुक्त को 14 दिन से अधिक एजेंसी की कस्टडी में रखा ही नहीं जा सकता। यहां ED पहले ही 14 दिन कस्टडी में रख चुकी है।

13 अक्टूबर को दिखाई थी गिरफ्तारी

ED ने IAS समीर विश्नोई, कारोबारी सुनील अग्रवाल और लक्ष्मीकांत तिवारी को लंबी पूछताछ के बाद 13 अक्टूबर को गिरफ्तार किया था। उस दिन दोपहर बाद उन्हें अदालत में पेश किया गया। ED ने 14 दिन की रिमांड मांगा था, अदालत ने 8 दिनों की अनुमति दी। 8 दिन बाद ED ने फिर से 6 दिन की रिमांड मांगी, जिसे अदालत ने स्वीकार कर लिया। गुरुवार को ED की रिमांड पूरी होने के बाद अब 14 दिन के लिए तीनों को जेल भेजा गया है।

2 करोड़ का सोना, हीरा और कैश भी मिला

गुED ने चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और IAS अधिकारी समीर विश्नोई को गिरफ्तार करके कोर्ट में पेश किया था। समीर विश्नोई के घर में लगभग 2 करोड़ का 4 किलो सोना और 20 कैरेट हीरा मिला था। इसके साथ 47 लाख रुपए कैश मिले थे

ED के पास जब्त सोना की कीमत 2 करोड़ 20 लाख रुपए बताई जा रही है। इधर बचाव पक्ष ने ईडी की कार्रवाई को गलत बताया है। गिरफ्तारी को भी अवैध बताया है। उनका कहना है कि आय से अधिक संपत्ति का मामला तो आईटी का है। इसमें ईडी का क्या काम? IAS समीर विश्नोई को कोर्ट में पेश करने से पहले मेकाहारा में उनका मेडिकल चेकअप भी कराया गया। उनके अलावा कारोबारी सुनील अग्रवाल, लक्ष्मीकांत तिवारी की गिरफ्तारी हुई है। बताया जा रहा है कि, नवनीत तिवारी को भी हिरासत में लिया गया है। इन सभी पर कोयला कारोबारियों से अवैध लेनदेन और आय से अधिक संपत्ति जैसे आरोप हैं।

Related posts

कांग्रेस के हल्ला बोल पर BJP का तंज:डॉ.रमन बोले-इतना करना तो वाजिब, ओपी चौधरी ने कहा-पहले पेट्रोल पर टैक्स घटाए राज्य सरकार

Admin

रायपुर में अधजली लाशों को खा रहे कुत्ते, लोग बोले- आंगन में कभी किसी का हाथ तो कभी पैर मिलता है; शिकायत करने गए युवकों पर ही दर्ज हो गई FIR

presstv

पंजाब में महिला सरपंचों के पुरुष रिश्तेदारों के आधिकारिक बैठकों में शामिल होने पर रोक

Admin

शाह ने अजान के लिए स्पीच रोकी:कहा- मुझे चिट्ठी मिली कि मस्जिद में प्रार्थना का समय हुआ है, भाषण से पहले हटवाया बुलेटप्रूफ ग्लास

Admin

ऑक्सीजन की आपूर्ति न होने से मौत आपराधिक कृत्य, नरसंहार से कम नहीं: इलाहाबाद हाईकोर्ट

presstv

कुख्यात बदमाश ने मां-बेटे का अपहरण कर पीटा, बोला- पैकेट फेंकता हूं कुत्ते की तरह दौड़कर आते हैं पुलिसवाले

presstv

Leave a Comment