November 26, 2022
THE PRESS TV (द प्रेस टीवी)
cgg_1664957351
छत्तीसगढ़ जीवन शैली बिलासपुर जिला भ्रष्टाचार राजनीति विशेष शिक्षा संपादकीय

कुख्यात बदमाश ने मां-बेटे का अपहरण कर पीटा, बोला- पैकेट फेंकता हूं कुत्ते की तरह दौड़कर आते हैं पुलिसवाले

बिलासपुर

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में जेल से छूटे अपराधी के गुंडाराज का नया ऑडियो सामने आया है, जिसमें मां के सामने बेटे की बेरहमी से पिटाई करने और मां के हाथ जोड़कर गिड़गिड़ाने की आवाज सुनाई दे रही है। दरअसल, आदतन बदमाश ने मां-बेटे की जमीन अपने नाम करने के लिए धमकी दी थी, जिसमें ऑडियो सामने आने के बाद अब पुलिस ने केस दर्ज कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पूरा मामला सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र का है।

तोरवा मेनरोड निवासी पीयूष गंगवानी पिता स्व रामचंद्र गंगवानी (17) का जमीनी विवाद चल रहा है,और मामला कोर्ट में है। बीते 20 सितंबर की शाम करीब 5 बजे वह अपनी मां के साथ स्कूटी में सामान खरीदने गोलबाजार जा रहा था। तभी गांधी चौक के पास नरेंद्र मोटवानी व ऋषभ पानीकर अपनी कार में आए और मां-बेटे को रोक लिया। उन्होंने जबरदस्ती उन्हें कार में बैठाया और दयालबंद स्थित ऋषभ पानीकर के ऑफिस में ले गए। इस दौरान नरेंद्र मोटवानी व ऋषभ पानीकर ने दोनों से कहा कि पेंडलवार हॉस्पिटल वाली जमीन को उन लोगों को दे दे नहीं तो दोनों को जान से मार देंगे। उन्होंने जमीन बेचने से मना किया तो गाली-गलौज की और लात-घूंसों से मारपीट की।

इतना ही नहीं पीयूष से कहा कि यदि जमीन को उनके नाम नहीं करते हैं तो उसके खिलाफ थाने में दुष्कर्म का झूठा केस लिखवाकर जेल भिजवा देंगे। उसकी मां के साथ उन्होंने गाली गलौज की और जान से मारने की धमकी दी। दोनों मां-बेटे को ऑफिस में बंधक बनाकर रखे। इस दौरान उसकी मां छोड़ने के लिए गिड़गिड़ाती रहीं।

आदतन बदमाश ने धौंस दिखाने तलवार लहराते सोशल मीडिया में फोटो किया था वायरल।
आदतन बदमाश ने धौंस दिखाने तलवार लहराते सोशल मीडिया में फोटो किया था वायरल।

पुलिस ने शिकायत पर नहीं की कार्रवाई
इस घटना के बाद पीयूष और उसकी मां केस दर्ज कराने के लिए तोरवा थाना और सिटी कोतवाली थाने का चक्कर काटती रही। लेकिन, पुलिस ने उनकी एक नहीं सुनी। केस दर्ज कराने के लिए पीयूष ने पुलिस अफसरों के पास भी फरियाद लगाई। फिर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई।

बदमाश बोला- हत्या कर दूंगा लेकिन पुलिस कुछ नहीं करेगी…
जब मां-बेटे का अपहरण कर बंधक बनाकर मारपीट की गई थी, तब लड़के ने पूरी घटना की अपने मोबाइल में ऑडियो रिकार्डिंग की थी, जिसमें आदतन बदमाश महिला के बेटे का पैर तोड़ने की धमकी दे रहा है। इतना ही नहीं, वह लड़के की हत्या कराने और पैसे के दम पर एक्सीडेंट का केस बनवाने का धौंस दिखा रहा है। इसके साथ ही वह लड़की बुलाकर उसे रेप के झूठे केस में फंसाकर जेल भेजने की धमकी दे रहा है। ऑडियो में बदमाश बोल रहा है कि मेरे पास इतना पैसा है कि एक पैकेट फेंकने पर पुलिसवाले कुत्ते की तरह दौड़ते हैं।

कोतवाली पुलिस ने केस दर्ज कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
कोतवाली पुलिस ने केस दर्ज कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

ऑडियो वायरल होने के बाद हरकत में आई पुलिस
करीब डेढ़ महीने तक पीयूष परेशान होता रहा। कोई रास्ता नहीं दिखने पर उसने सोशल मीडिया का सहारा लिया और जमीन माफिया की करतूतों की वाइस रिकॉर्डिंग सोशल मीडिया में अपलोड कर दिया। इसकी जानकारी गृह सचिव और डीजीपी को हुई, तब पुलिस अफसरों को कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने बुधवार की शाम आननफानन में केस दर्ज कर आरोपी ऋषभ पनिकर और नरेंद्र गंगवानी को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी के दफ्तर की तस्वीरें
आरोपी के दफ्तर की तस्वीरें

महिला के मकान में कागज चिपकाकर मांगा गुंडा टैक्स
ऋषभ पानीकर ने मोपका विवेकानंद कॉलोनी के सामने महिला के निर्माणाधीन मकान में पोस्टर चिपका कर गुंडा टैक्स मांगा। सरकंडा पुलिस ने उसके खिलाफ केस दर्ज किया है। देवरीडीह पुराना पॉवर हाउस निवासी शैला साहू पति रामअवतार (52) की शिकायत पर पुलिस ने यह कार्रवाई की। उनका विवेकानंद नगर मोपका में खुद की जमीन है। मकान निर्माण के लिए उन्होंने यूनियन बैंक से 30 लाख का लोन लिया था। ठेकेदार ने पैसा पूरा ले लिया पर मकान का काम पूरा नहीं किया। इसी बीच ठेकेदार की मौत हो गई। 30 अक्टूबर की दोपहर करीब 1.30 बजे महिला अपने निर्माणाधीन मकान को देखने गई तो वहां पर ऋषभ पनिकर ने पोस्टर चिपका दिया था। महिला के अनुसार वह गुंडा टैक्स देने के लिए दबाव बना रहा है। जबकि उसका कोई लेनादेना नहीं है। महिला को जान से मारने की धमकी भी दी है।

आरोपी के दफ्तर की तस्वीरें
आरोपी के दफ्तर की तस्वीरें

हत्या प्रयास के केस में हुआ था गिरफ्तार
आदतन बदमाश ऋषभ पानीकर ने जमीन विवाद के चलते ही तोरवा क्षेत्र के व्यापारी पर जानलेवा हमला कर दिया था। इस हमले में घायल व्यापारी को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस केस में पुलिस ने ऋषभ पानीकर और उसके साथियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया गया। बाद में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस बीच जेल से जमानत पर छूटने के बाद फिर से उसने गुंडागर्दी शुरू कर दिया है।

थाने में रात भर चली आवभगत
सिटी कोतवाली पुलिस जब ऋषभ पानीकर और जमीन कारोबारी नरेंद्र मोटवानी को रात में पकड़कर थाने ले गई। इसके बाद शहर के रसूखदार और कांग्रेस नेताओं की थाने में भीड़ जुट गई। इस दौरान नरेंद्र मोटवानी से मिलने के लिए कांग्रेस नेता और जमीन कारोबारी भी पहुंचे।, पुलिस भी पूरी रात दोनों आरोपियों की खातिरदारी करती रही।

ANI NEWS INPUT

Related posts

दिल्ली: श्मशान घाट से सटे शहीद भगत सिंह कैंप के लोग धुएं और गंध में रहने को मजबूर

presstv

महिलाओं की कोख किराए पर लेकर करोड़ों की तस्करी:1 लाख तक के लालच में बॉडी दे रहीं किराए पर, 20 दिन में 22 करोड़ से ज्यादा की ड्रग्स पकड़ी

Admin

मणिपुर: असम राइफल्स के मेजर ने कथित तौर पर ग्रामीण को गोली मारी, पुलिस करेगी जांच

presstv

नहीं रहे विधानसभा उपाध्यक्ष मनोज मंडावी:हार्ट अटैक से निधन

presstv

Coronavirus pandemic: BCCI suspends all domestic tournaments including Irani Cup

Admin

रेणु जोगी के बयान ने बढ़ाया CG का सियासी पारा:कहा- धरमजीत का रुझान BJP जबकि प्रमोद और देवव्रत का कांग्रेस की तरफ, मैं JCCJ में खुश हूं, पार्टी विलय की कोई चर्चा नहीं हुई है

presstv

Leave a Comment